राष्ट्रों का इतिहास

भविष्य के अपडेट सीधे इनबॉक्स में प्राप्त करने के लिए HN सूची में मुफ्त में शामिल हों!

सत्यवादी राजा हरिश्चंद्र कि कहानी

सत्यवादी राजा हरिश्चंद्र कि कहानी

आज में आपको सत्यवादी राजा हरिश्चंद्र की कहानी सुनाने जा रहा हूँ। राजा हरिश्चंद्र सूर्यवंशी थे। भगवान श्रीराम ने इन्हीके कुल में जन्म लेने का एक कारन इन्हीके पुण्यकर्म थे। विश्वामित्र कि प्रतिज्ञा आज में जो कथा बताने जाए रहा हूँ, वो कथा रामायण पूर्व सैंकड़ो साल पहले की...

छत्रपति शाहू महाराज का जीवन परिचय- १७०७-१७४९

छत्रपति शाहू महाराज का जीवन परिचय- १७०७-१७४९

नमस्कार मित्रो, आज में छत्रपति शाहू महाराज का जीवन परिचय विस्तृत रूप में बताने जा रहा हूँ। सातारा के शाहू महाराज के कार्यकाल में ही मराठाओं ने पुरे हिंदुस्तान पर शासन किया था। इस लेख में उनका व्यक्तिगत जीवन तथा उनके जीवनकाल में उन्होंने किस तरह शासन संभाला, साथ में...

जीजामाता का गौरवशाली इतिहास- १७वी शताब्दी

जीजामाता का गौरवशाली इतिहास- १७वी शताब्दी

राजमाता जीजाऊ का जन्म १२ जनवरी १५९८ को सिंधखेड़, बुलढाणा के भुइकोट किले में हुआ था। राजमाता जीजाऊ छत्रपति शिवाजी महाराज की मां थीं, जो हिंदवी साम्राज्य के संस्थापक थे। आज यह स्थान न केवल एक ऐतिहासिक स्थान है, बल्कि एक पर्यटन स्थल भी है। भुइकोट किले में महल था, जिसमें...

गुरु गोबिंद सिंह- सिखों के दसवे और आखिरी मानव गुरु

गुरु गोबिंद सिंह- सिखों के दसवे और आखिरी मानव गुरु

संक्षिप्त परिचय Image Credits: Wikimedia गुरु गोविंद सिंह का जन्म भारत के बिहार राज्य में पटना जिले में हुआ था। ऐसा माना जाता है कि गोविंद राय सिख धर्म के नौवें और अंतिम मानव गुरु थे। गुरु तेग बहादुरजी सिख धर्म के नौवें गुरु और गुरु गोविंद सिंह के पिता थे। अपने पिता...

तात्या टोपे की जीवनी – इतिहास, १८५७ के युद्ध में योगदान

तात्या टोपे की जीवनी – इतिहास, १८५७ के युद्ध में योगदान

यह तो हम सभी जानते हैं , कि अंग्रेजों ने कई सालों तक हमारी भारत माता को गुलाम बनाकर रखा। लेकिन इस बात पर भी कोई शक नहीं है , कि भले ही अंग्रेजों ने हमें गुलाम बना कर रखा। लेकिन उन्हें हमें गुलाम बनाना इतना भी आसान नहीं था। उन्हें हमारे भारत में राज करने के लिए कई वीर,...

शिवगंगा की महारानी- वेलु नाचियार

शिवगंगा की महारानी- वेलु नाचियार

नमस्कार दोस्तों, आज मैं आपके सामने भारतीय स्वतंत्रता संग्राम की एक नायिका की जीवनी प्रस्तुत करने जा रही हूँ। भारतीय इतिहास में कई स्वतंत्रता सेनानी हुए हैं, जिन्हें हम समय के साथ भूल गए हैं। वेलू नाचियार एक ऐसे ही स्वतंत्रता सेनानियों में से एक हैं। “वीरमंगई”-...

Marvelous Sai Baba History in Hindi- Saint of 19th Century Unleashed

Marvelous Sai Baba History in Hindi- Saint of 19th Century Unleashed

Hi Everyone, today I am going to share with you History of Great Saint Sai Baba of India. I hope you will like this biography of Sai Baba. परिचय शिर्ड़ी के साईं बाबा को एक आध्यात्मिक गुरु के साथ-साथ पूरे भारत में एक महान संत के रूप में जाना जाता है। उन्हें सभी भक्त...

मगधनरेश सम्राट चंद्रगुप्त मौर्य कि जीवनी

मगधनरेश सम्राट चंद्रगुप्त मौर्य कि जीवनी

परिचय चंद्रगुप्त मौर्य का इतिहास मान्यताओं से भरा था। उसके पूरे जीवन का वर्णन करने के लिए पर्याप्त सबूत नहीं हैं। उनका पूरा जीवन उनके गुरु आचार्य चाणक्य से संबंधित है। चाणक्य इतिहास में प्रतिभाशाली व्यक्तित्वों में से एक थे। चाणक्य आज अर्थशास्त्र और राजनीति अगर आप...

Paheliyan in Hindi With Answers

Paheliyan in Hindi With Answers

आज में आप सभी लिए हिंदी पहेलियाँ लेकर आया हूँ। आशा करता हूँ की ये हिंदी पहेलियाँ आपको जरूर पसंद आएगी। पहेलियाँ बुझाने से पहले निचे दिए निर्देशों को ध्यान से पढ़े। सूचना जिनका जवाब आपको निचे दिए आंसर बॉक्स में फील करके आखिरी सबमिट बटन पर क्लिक करना है। जिसके बाद, आपको...

HN समुदाय में शामिल हों

मराठा साम्राज्य जिसने हिंदुस्तान में भगवा स्तापित किया- १६४७-१८१८

मराठा साम्राज्य जिसने हिंदुस्तान में भगवा स्तापित किया- १६४७-१८१८

मराठा साम्राज्य (महराटटा साम्राज्य के रूप में भी जाना जानेवाला), या मराठा संघ, भारत में एक राज्य था। यह साम्राज्य १६४७ से १८१८ तक अस्तित्व में था, और अपनी महिमा के चरम के दौरान, विभिन्न साम्राज्यों/राज्यों में २५० मिलियन एकर (१ मिलियन किलोमीटर) भूमि, या, दूसरे शब्दों...

पुरंदर किला- मराठा छत्रपति संभाजी महाराज का जन्मस्थल

पुरंदर किला- मराठा छत्रपति संभाजी महाराज का जन्मस्थल

आप सभी सहयाद्री पर्वत श्रृंखलाओं में स्थित विभिन्न किलों से परिचित हैं। ऐसा ही एक कम खोजा गया और सुरक्षित रूप से बहुत ध्यान से छिपा हुआ है पुरंदर किला। यह किला समुद्र तल से ४४७२ फीट और पुणे से ५० किलोमीटर दूर है। पुरंदर किले को वज्रगढ़ किले का जुड़वां किला माना जाता...

रायगढ़ का इतिहास- मराठा राजधानी

रायगढ़ का इतिहास- मराठा राजधानी

नमस्कार मित्रो, में आज आपके साथ शेयर करने जा रहा हूँ, रायगढ़ का इतिहास। अब आप ही सोचे, रायगढ़ किला जो शिवछत्रपती की राजधानी रही, उस किले का इतिहास कितना रोमांचकारी रहा होगा? तो चले इस रोमांचकारी सफर को शुरू करें। रायगढ़ का परिचय रायगढ़ सत्रवीं शताब्दी में छत्रपति शिवजी...

ऐतिहासिक भारतीय स्मारक- ६ लोकप्रिय वास्तु की सूची

ऐतिहासिक भारतीय स्मारक- ६ लोकप्रिय वास्तु की सूची

आज, मैं आपके साथ भारत के प्रसिद्ध ऐतिहासिक स्मारकों के संग्रह को साझा कर रहा हूँ। इन स्मारकों के बारे में यह जानकारी निश्चित रूप से भारतीय इतिहास को जानने में आपकी मदद करेगी। ऐतिहासिक भारतीय स्मारक भारत के स्मारक भारतीय इतिहास में महत्वपूर्ण भूमिका निभाते हैं। भारत की...

Subscribe To Our Newsletter

Subscribe To Our Newsletter

Join our HN list to receive the latest blog updates from our team.

You have Successfully Subscribed to HN list!

Pin It on Pinterest